DocsApp
· 1 min read

जानें आप हर वक़्त आप थका हुआ क्यों महसूस करते हैं ?

जानें आप हर वक़्त आप थका हुआ क्यों महसूस करते हैं ?

क्या आपने कभी कामना की है कि आपके 24 घंटे में दिन में कुछ अतिरिक्त घंटे जुड़ जाएँ ? या फिर आपने अचानक से काम करते करते उसे छोड़ देते हैं और बिस्तर पर पसर जाते हैं ; यदि आपके साथ ऐसा है तो आप दुनिया के 7 अरब लोगों में से एक हैं

एक थका हुआ शरीर संभवतः सबसे बड़ा दुश्मन है | आपके जीवन में ऐसे उदाहरण हो सकते हैं जहाँ आप 8+ घंटे के नींद के बाद थके हुए महसूस कर रहे हैं और आपको एहसास हो रहा है कि आपको अधिक एनर्जी की जरुरत है तो आप खुद से प्रश्न पूछना शुरू कर दें ; यद्यपि भरपूर नींद आपके जीवन से थकान को बाहर फेंकने में मदद करती है , लेकिन कुछ ऐसी चीज़ें होती हैं जो दिन-ब-दिन आप गलत कर रहे होते हैं जो आपकी ऊर्जा को चूस लेती है ; इन चीज़ों के बारे में पढ़ें :-

आप अपने आपको ठीक से हाइड्रेट नहीं कर रहे हैं :- अगर आपको लगता है कि कैफीन थकावट को दूर भगाने का अंतिम रास्ता है तो आप गलत सोचते हैं ; ज्यादातर मामलों में , पानी के कारण या तो शरीर थक जाता है या थका हुआ होता है और इसे आसानी से उचित ठहराया जा सकता है क्योंकि वयस्क मानव शरीर में 50-65% है और मस्तिष्क के मामले में , पानी का प्रतिशत 85% होता है , इसी तरह डिहाइड्रेशन यानी निर्जलीकरण आपकी क्षमता को कम कर देता है

“इसलिए अगर आप अपने आपको थका हुआ महसूस कर रहे हैं तो तुरंत थोड़ा पानी पियें ये आपके थकान को दूर भगाने में मदद करेगा”

आपका सोने का समय दिन-ब-दिन अलग-अलग है :- नींद से जुड़ा एक भ्रामक वाक्य होता है अधिक एवम् बेहतर जबकि सच्चाई ये है कि अगर आप नियमित रूप से एक निश्चित दिनचर्या का पालन कर रहे हैं तो ये आपको 6-8 घंटे में ही एक बेहतर और थकानमुक्त शरीर देगा “अपने सोने के समय और घंटों को पूरे हफ्ते नियमित रखें”

नाश्ता करना ना भूलें :- नाश्ता दिन का सबसे महत्वपूर्ण भोजन है , लेकिन हमारी व्यस्त दिनचर्या में हम उसे भूल जाते हैं , शायद यही कारण है कि आप की सारी ऊर्जा पूरे दिन में निकल जाती है ; एक अच्छा और पौष्टिक नाश्ता आपके दिन की एक बेहतर शुरूआत में मदद करता है “सुबह जल्दी उठें और नाश्ता जरुर लें , एक पौष्टिक नाश्ता आपके दिन को एक बेहतरीन शुरुआत देगा”

आप पूरे दिन बैठे रहते हैं:- बैठना , घुमने से कम थकाऊ लगता है लेकिन अध्ययन में दिखाया गया है कि यह विपरीत है , शोध बताते हैं कि एक जगह पर एक घंटे से ज्यादा बैठे रहना आपको थकाऊ और नींद महसूस कराता है ; ऐसा इसलिए क्योंकि लगातार बैठे रहने से आपकी हृदयगति धीमी हो जाती है और इससे शरीर की सारी क्रियाएं धीमी हो जाती हैं और हमारा शरीर धीरे-धीरे सोना शुरू कर देता है “दिन में समय-समय पर टहलें , बाथरूम ब्रेक और ऑफिस के सहयोगियों के साथ नियमित अंतराल पर एक क्यूबिकल चैट जरुर करें ये आपको तरोताज़ा बनाये रखने में मदद करेगा”

आपको पर्याप्त रौशनी नहीं मिल पाती है:- मेलाटोनिन एक स्वाभाविक रूप से होने वाला नींद हार्मोन है जो प्रकाश एक्सपोज़र द्वारा नियंत्रित होता है ; आप जितनी अधिक रौशनी में रहेंगे , ये हार्मोन उतना ही अधिक सक्रिय रहेगा | दोपहर में 5 मिनट की वाक या फिर खिड़की के पास आपका कार्यस्थल आपको सक्रिय बनाये रखता है “मेलाटोनिन को नियंत्रित करने के लिए , सुनिश्चित करें कि रात को सोते वक़्त प्रकाश कम हो जिससे अगली सुबह आप अधिक सक्रिय रहें”

हालाँकि , थायराइड , एड्रेनल , थकान , अनिद्रा , तनाव जैसी चिकित्सीय परिस्थितियाँ आपके शरीर में ऊर्जा के निम्न स्तर का कारण हो सकती हैं , यदि आप यह नहीं जानते कि आपका शरीर क्यों थका हुआ है तो आपको सलाह दी जाती है कि आप चिकित्सीय सहायता अवश्य ले