DocsApp
· 1 min read

कब क्या खाना चाहिए ?

कब क्या खाना चाहिए ?

बात खाने की करें तो आपने सुना ही होगा “सुबह का नाशता राजा की तरह, दोपहर का भोजन राजकुमार की तरह और रात का भोजन भिखारी की तरह करना चाहिए” | यह तो ठीक है, लेकिन अब सवाल है तीनों पहर के भोजन के लिए समय का सही चुनाव |

एक ज़रूरी बात : सुबह की शुरुआत हमेशा 2-3 ग्लास पानी से करनी चाहिए | इसका कारण है सोते समय हमारे शरीर में मौज़ूद पानी खत्म हो जाता है | तो एक बेहतर तरीके से नए दिन की शुरुआत के लिए ज़रूरी है की आप सुबह उठते ही पानी पिएं |

चलिए अब जानते हैं कि अध्ययनों के हिसाब से क्या है भोजन करने का सही समय :

सुबह का नाश्ता :
दिन का पहला आहार होता है नाश्ता, तो ज़ाहिर है कि इसे भरपूर मात्रा में किया जाए | सुबह के नाश्ते का सही समय है - सुबह 7-8 बजे के बीच | यदि आपका नाश्ता सही समय पर होगा तो आपका शरीर सही समय पर काम करना शुरू करेगा और आने वाले पूरे दिन के लिए आप तैयार रहेंगे |

सही समय पर नाश्ता करने से आपके शरीर में ऊर्जा बनी रहती है | यदि आपने सही समय पर भरपूर नाश्ता किया है तो दिनभर बार बार भूख लगने की समस्या सामने नहीं आएगी, जिसका मतलब है आप अपने काम में पूरा ध्यान लगा पाएगें |

शोध बताते हैं कि भरपूर नाश्ता करने से आपके शरीर में ग्लूकोस की मात्रा बनी रहती है जिसकी मदद से आप अपने ध्यान को अपने काम में केंद्रित कर सकते हैं | यदि आप सुबह का नाश्ता नहीं करेंगे तो आपको ज़्यादा भूख लगेगी और फिर आप ज़रूरत से ज़्यादा खाएगें, और ज़्यादा खाना हर किसी के शरीर के लिए नुकसानदायक है |

अब आप को चुनना है अपने नाश्ते के लिए सही समय!

दोपहर का खाना :
सुबह के नाश्ते के बाद आता है दोपहर का खाना, जिसकी अहमियत उतनी ही है | अब तक नाश्ते से मिली ऊर्जा खत्म हो चुकी होगी, तो दिनचर्या को चलाने के लिए अब ज़रूरी है दोपहर का भोजन | दोपहर के खाने का सही समय है - दिन में 12-1 बजे के बीच |

ज़रूरी है कि नाश्ते और दोपहर के खाने के बीच आप कम से कम 4 घंटों का अंतर रखें, ताकि शरीर में ऊर्जा की कमी ना हो और आप को भूख भी ना लगे | लेकिन शायद काम और अन्य कारणों की वजह से 4 घंटों का अंतर रखना आसान ना हो | पर हमेशा याद रखें की दोपहर का खाना आप शाम के 4 बजे से पहले खा लें|

यदि आपको पता हो की किसी कारण आप दोपहर का खाना देरी से खाएगें तो कोशिश कीजिए की कुछ हल्का फुल्का खा लें | जैसी की - फल, मेवा, सलाद आदि | ध्यान रखें की दोपहर का भोजन इतना हैवी ना हो कि आपको नींद आने लगे और बाकी बचे दिन में आप खुद को थका थका महसूस करें |

रात का खाना :
रात के भोजन का सही समय है शाम के 6-7 बजे के बीच, शोध बताते हैं कि शाम के 7 बजे के बाद भोजन करना हमारे शरीर को काफी नुक्सान पहुँचा सकता है |

हम जानते हैं कि व्यस्त जीवनशैली की वजह से रात का खाना इतनी जल्दी करना असंभव है | पर हमेशा याद रखें की रात को सोने से 3 घंटे पहले आप अपना भोजन कर लें | ताकि आपका शरीर खाए गए भोजन को ठीक तरह से पचा सके और भोजन के पौषक तत्वों को शरीर में जमा कर सके |

रात्रि भोजन ज़रूरी है लेकिन ध्यान रहे की आपका रात का भोजन आपके सुबह के नाश्ते और दिन के खाने के मुकाबले हल्का हो | ऐसा इसलिए क्यों कि शाम के बाद हमारे शरीर की गतिविधियां कम हो जाती हैं, जिसका मतलब है कि भोजन से प्राप्त हुई कैलोरी शरीर में जमा हो जाएगी क्यों कि हम सुबह और दिन के मुकाबले रात को कम काम करते हैं |

और एक अहम बात यह भी है कि यदि आपका रात का भोजन हल्का होगा तो आपका शरीर अगले 10-12 घंटे बिना कुछ खाए-पिए रहेगा | जिसका मतलब है की अगली सुबह फिर से आप अपने दिन की शुरुआत एक हैवी और भरपूर नाश्ते के साथ कर सकते हैं |

तो अब अपने भोजन के समय का सही चुनाव आपको करना है | याद रखें कि सही समय पर खाना खाने से आप तंदरुस्त और स्वस्थ भी बने रहेंगे |
डॉक्सऐप! आपके स्वास्थ के लिए सदा आपके साथ