DocsApp
· 1 min read

90% महिलाएं है इनकी जकड़ में

90% महिलाएं है इनकी जकड़ में

कहते हैं की बिमारी कभी बता कर नहीं आती | अनुसंधानों के हिसाब से औरतों को रोगों का खतरा ज़्यादा होता है | कुछ रोग ऐसे हैं जिनसे आज औरतों का खुदको सुरक्षित रखना ज़रूरी है | चलिए इनके बारे में जानते हैं :
स्तन कैंसर
हर 8 महिलाओं में से एक को स्तन कैंसर होने की संभावना होती है | इससे बचने के लिए सभी महिलाओं को नियमत रूप से अपने स्तन की जांच करनी चाहिए, ध्यान दें कि कहीं कोई गांठ तो नहीं है | रिप्रोडक्टिव उम्र में हर महिला को 2 - 3 साल बाद अल्ट्रा सोनो-मैमोग्राफी करवानी चाहिए |

सर्विकल कैंसर
सर्विकल कैंसर गर्भाशय के सबसे निचले हिस्से में होता है | भारत में हर साल लगभग 10 लाख सर्विकल कैंसर के मामले सामने आते हैं , जिनमें से ज्यादातर 30 साल तक की औरतें हैं | पैप स्मीयर टेस्ट और एचपीवी का टीका लगवाने से आप इस कैंसर से खुद का बचाव कर सकती हैं | हर दो साल में गायनोकोलॉजिस्ट से जांच करवाई जानी चाहिए |

एनीमिया
अगर आपको एनीमिया है , तो आपके खून में लाल रक्त कोशिकाओं की कमी है| इसके अनेक कारण हो सकते हैं जैसे की - मासिक धर्म के दौरान भारी रक्त बहाव, आयरन और विटामिन बी12 की कमी , असम्पूर्ण आहार आदि| यदि आप आयरन और विटामिन बी12 युक्त भोजन खाएं , तो एनीमिया से छुटकारा पाया जा सकता है |

थाइरोइड
थाइरोइड आपके गले के अंदर मौजूद एक ग्रंथि में खराभी आने की वजह से होता है | इसके दो प्रकार होते हैं - हाइपो थाइरोइड और हाइपर थाइरोइड | थाइरोइड को नियंत्रित रखने के लिए क्रूसीफेरस सब्ज़ियां ( गोभी, ब्रोक्कोली आदि ), कॉफ़ी, धूम्रपान का त्याग कर दें | व्यायाम या योग करें और अपनी दवाईयाँ समय पर लें |

पी सी ओ एस
ये एक प्रकार की हार्मोनल बीमारी है जिसके कारण ओवरी का आकर बढ़ जाता है और उसके आस पास छोटी छोटी गाठें हो जाती हैं | इसका कारण अनुवांशिक या बदलता मौसम हो सकता है | इसका इलाज गर्भ निरोधक गोलियों और अन्य दवाईयों से किया जाता है | इस बीमारी के चलते, वज़न कम करना या उसपर नियंत्रण बनाए रखना बेहद आवश्यक है |

मेरी सभी महिलाओं से यह गुज़ारिश है की, थोड़ा ख्याल खुद का भी रखें | किसी अन्य जानकारी के लिए इस्तेमाल कीजिए डॉक्सऐप|

आपके स्वास्थ के लिए सदा आपके साथ|