DocsApp
· 1 min read

सुबह व्यायाम करने के 9 कारण

सुबह व्यायाम करने के 9 कारण

क्या आपने कभी सोचा है कि जिम सुबह पाँच बजे क्यों खुल जाती है ?सुबह के वक़्त जिम उन सभी स्मार्ट लोगों का स्वागत करता है जो अपना दिन बेहतर बनाने के लिए जिम करते हैं ; लेकिन इस व्यस्त जीवन शैली में हम बेहतर जिम या फिर बेहतर दिन में से एक का चुनाव करते हैं लेकिन सुबह जल्दी उठकर आप अपने बेहतर जिम और बेहतर दिन दोनों का चुनाव कर सकते हैं और दोनों दुनिया में बेहतर हो सकते हैं

अगर मैं आपको ये बात आमने-सामने से कहूँ तो शायद आप मेरे ऊपर चिल्लाने लगें लेकिन मेरा विश्वास करो और मुझे यह समझाने का मौक़ा दो कि सुबह के वक़्त का व्यायाम आपके शरीर के लिए जरूरी क्यों है

बिना बाधा के बेहतर कसरत करें : दिन के अन्य घंटों में , हर मशीन के पीछे एक लम्बी कतार होती है और वेट सेक्शन में डम्बल उठाने के लिए दो लोग लड रहे होते हैं लेकिन सुबह के वक़्त आप रिलैक्स होकर आराम से हर तरह का कसरत कर सकते हैं , इस वक़्त आपको अपने पर्सनल जिम जैसा फील होगा

हार्मोन से सहायता : टेस्टोस्टेरोन मांसपेशियों के द्रव्यमान और सुडौल बनाने में मदद करता है ; एक अध्ययन के मुताबिक , सुबह के वक़्त शरीर में टेस्टोस्टेरोन का स्तर सबसे अधिक होता है और सुबह में कसरत यह सुनिश्चित करता है कि आप अपने शरीर के हार्मोन का अधिकतर हिस्सा उपयोग करते हैं जो आपके लिए फायदेमंद होता है

अनुशासन निर्माण : अनुशासित जीवनशैली प्रशंसा के योग्य होता है लेकिन ये तभी प्राप्त होता है जब आपक कड़ी मेहनत करने के इच्छुक हैं , सुबह में कसरत करना मुश्किल हो सकता है लेकिन ये आपके आन्तरिक शरीर और आपके बाहरी काम में अनुशासन लाता है और सब कुछ एक विशिष्ट श्रृंखला में आगे बढ़ना शुरू होता है , सुबह जल्दी उठना और काम करने के आदत के बाद आप खुद को तरोताज़ा महसूस करते है

उपलब्धि की भावना : उपलब्धि की ख़ुशी से कुछ भी तुलना नहीं कर सकते और पूर्ण कसरत एक उपलब्धि , अपने कार्यस्थल पर जाने से पहले आप महसूस करते हैं कि आपके बैग में पहले से ही एक उपलब्धि है तो ये आपको प्रोत्साहित करता है

अपने शरीर के बारे में बेहतर महसूस करें : लडकियाँ पार्टी से पहले अपना मैनीक्योर और फेशिअल करती हैं ; इस उदाहरण के साथ सुबह की कसरत आपको पूरे दिन अच्छा महसूस कराती है , यहाँ कोई विज्ञान नहीं शामिल है दरअसल ये मनोविज्ञान है

बेहतर मेटाबोलिज्म : कसरत के बाद आपका शरीर अधिक कैलोरी जलाता है भले ही आप अपने क्यूबिकल में घूम रहे हों ; इसे पोस्ट-व्यायाम ऑक्सीजन उपभोग (ईपीओसी ) के नाम से जाना जाता है , सुबह में बाहर निकलने से आपके चयापचय बढ़ जाता है और आपका चयापचय पूरे दिन ऊंचा रहता है

भरपूर नींद में सहायता : हाल में हुए एक अध्ययन में प्रतिभागियों ने सुबह 7 बजे , दोपहर एक बजे और शाम 7 बजे कसरत किया लेकिन सुबह 7 बजे कसरत करने वालों ने रात में भरपूर और बेहतर नींद ली ; ऐसा इसलिए है क्योंकि कसरत करने के कुछ घंटों तक आपका शरीर सक्रिय रहता है और रात का कसरत आपके नींद में व्यवधान डालता है

एक पौष्टिक नाश्ते की वजह : अगर आप सुबह जागकर नाश्ते की मेज पर जाते हैं तो बस रोटी के दो स्लाइस और एक कप कॉफ़ी आपके लिए पर्याप्त हो सकती है लेकिन अच्छे कसरत के बाद , आपका शरीर आपको अच्छे और स्वस्थ भोजन के लिए पूछेगा , इसमें प्रोटीन उर पोषक तत्वों के अधिक स्त्रोत शामिल होंगे जो आपको पूरे दिन लाभान्वित करेंगे

अन्य प्राथमिकताओं के लिए समय : क्या आपने अन्य प्राथमिकताओं जैसे कि किसी पार्टी में जाने के लिए या किसी अन्य काम के लिए अपना कसरत छोड़ा है ? अगर आप सुबह में कसरत कर लेते हैं तो आपकी अन्य प्राथमिकताओं के लिए आपके पास पूरा दिन होता है और आप उनपर पर्याप्त समय देते हैं

सुबह के व्यक्ति बनें क्योंकि ये कहावत है कि “सबसे पहले जाने वाला को ही फायदा होता है”
और अधिक जानकारी के लिए हमारे विशेषज्ञ से सम्पर्क करें